• Subhasish Mishra

डेटाबेस क्या है और इसके Model के प्रकार हिंदी में

डेटाबेस क्या है (What is Database in Hindi )


चलिए जानते डेटाबेस क्या है (What is Database in Hindi ) हैं। डेटाबेस कई सारे information का एक बोहत बड़ा संग्रह होता है। इसमें इनफार्मेशन को organised तरीके से संग्रहित किया जाता है। तह जरुरी एक डेटाबेस में जो भी data होते है वह सब एक दूसरे से related हो। लेकिन ज्यादातर एक डेटाबेस में related data या इनफार्मेशन रखा जाता है। डेटाबेस का मुख्य कार्य यह है की data या information को एक ही जगह पर सही तरीके से संगृहीत करके रखा जाए ता की जरुरत के समय इसमें संग्रह करके रखे गए डेटाबेस को आसानी से access किया जा सके। चलिए एक उदहारण से इसे समझते हैं।


अगर आप स्कूल/कॉलेज में पढ़ रहे हैं या पढ़ चुके हैं तो आपको attendance register के बारे में तो जरूर पता होगा जिसपर आपका present लिया जाता है। वह डेटाबेस का सबसे साधारण और सबसे बेहतरीन उदहारण है। अगर आपने कभी उस रजिस्टर को खोलकर देखा होगा तो आपको जरूर पता होगा की उसमे हर page में एक table होता है जिसमे 2 से 3 column होते हैं। सबसे पहले column में आपका Roll No. उसके बाद आपका Name और आखिर में present है या लिखा जाता है। यह रजिस्टर एक database ही है।


अब चलिए देखते हैं कंप्यूटर या फिर इंटरनेट में डेटाबेस क्या है और कैसे काम करता है। इसका सबसे बड़ा उदहारण है Facebook . चलिए देख ते है facebook में डेटाबेस कैसे काम करता है। जब आप एक नया facebook अकाउंट खोलने जाते हैं तो आपको आपका Name , Mobile number, email ,gender ,date of birth अदि भरने केलिए एक form मिलता है। कभी आपने सोचा है ही जब आप उस फॉर्म को भरके register करते है वो सारा data कहाँ जाता है?मैं आपको बताता हूँ। वो सारा डाटा जो आप उस फॉर्म में भरते हैं वो सब facebook का एक बोहत बड़ा डेटाबेस मे रहता है। बादमे जब आप log in करते हैं तो facebook server आपको इसी data का इस्तमाल करके login करने की अनुमत प्रदान करता है।


डेटाबेस के elements (Elements of Database in Hindi)


डेटाबेस में data table के format में store किया जाता है। Database के 3 elements होते है।

  • Field

  • Record

  • Table

Field: जैसे आपको पता है की डेटाबेस में data को table में रखा जाता है। Field को table का column के रूप में represent किया जाता है।

Database Field

Record: डेटाबेस table का हर एक Row को एक एक record कहा जाता है।


Table:Row और column मिलकर एक टेबल बनाते हैं। एक table में कई सारे अलग अलग data होते हैं। लेकिन यह सब एक दूसरे से सम्बंधित होते हैं।


डेटाबेस मैनेजमेंट सिस्टम (DBMS in Hindi)

Database Management System एक software है जो आपको database बनाने और उसको manage करने में मदद करता है। चलिए इसको एक उदहारण के साथ समझते हैं।


मान लीजिये की आपने एक डेटाबेस बनान चाहते हैं जिसका नाम है "Student" और आप अपने कंप्यूटर खोला लेकिन अब सवाल यह है की डेटाबेस बनाएंगे कहाँ ? Database MAnagement System software आपको एक platform प्रदान करता है जहाँ आप अपना डेटाबेस का नाम देकर उसे बना सकते हैं।

DBMS न केवल आपको डेटाबेस बनाने की अनुमति देता है बल्कि यह उस डेटाबेस में रखे गए data/information को update और delete करने की सुविधा भी प्रदान करता है। अगर आपको आपके "Student" डेटाबेस में एक नया स्टूडेंट का डाटा डालना चाहते है या फिर कोई भी पुराणी स्टूडेंट के डाटा को बदलना चाहते हैं तो आप यह सब Database MAnagement System software के जरिये आसानी से कर सकते हैं।


इतना ही नहीं अगर आप किसी स्टूडेंट का रिजल्ट देखना चाहते है तो आप उसका Roll number या नाम के जरिये उसे आसानी से search या access कर सकते हैं। Database Management System आपको वो सारे सुविधा प्रदान करता है जिसे आप एक डेटाबेस और उसके अंदर रखेगए tables और उन tables के अंदर रखे गए data को अपने जरुरत के हिसाब से इस्तमाल कर सकते हो।


डेटाबेस के प्रकार (Types of Database in Hindi)


उपयोग की आवश्यकताओं के आधार पर, बाजार में निम्न प्रकार के डेटाबेस उपलब्ध हैं


1. Centralized Database

Data एक स्थान पर संग्रहीत की जाती है और विभिन्न स्थानों के उपयोगकर्ता इस डेटा को access कर सकते हैं। इस प्रकार के डेटाबेस में ऐसे एप्लिकेशन होते हैं जो उपयोगकर्ताओं को दूरस्थ स्थान से भी डेटा तक पहुंचने में मदद करते हैं।


2. Distributed Database

इस डेटाबेस में एक डेटाबेस के विभिन्न भागों को कई अलग-अलग जगह पर संग्रहीत किया जाता है। जरुरत पड़ने पर data को उन सारे अलग अलग स्थानों से लाकर एक डटबसे मे इकठा किया जाता ही और वहीँ से उपभोगताओं के पास पहंचाया जाता है।


3.Personal Database

Data को personal computer पर एकत्र और संग्रहीत किया जाता है जो की बोहत कम होते हैं। डेटा आमतौर पर एक संगठन के एक ही विभाग द्वारा उपयोग किया जाता है।


4.End-User Database

End-User आम तौर पर विभिन्न स्तरों पर किए गए लेनदेन या संचालन के बारे में चिंतित नहीं होते हैं और केवल उस उत्पाद के बारे में जानते हैं जो एक सॉफ्टवेयर या एप्लिकेशन होता है। इसलिए, यह एक shared database है जो विशेष रूप से विभिन्न स्तरों के प्रबंधकों की तरह, End-User के लिए बनाया गया है। पूरी जानकारी का सारांश इस डेटाबेस में एकत्र किया गया है।


5.Commercial Database

इस तरह के डेटाबेस को access करने के लिए पैसे देने पड़ते हैं,क्योँ की यह एक बोहत बड़ा डेटाबेस होता है जिसमे एक ही प्रकार के कई सारे डाटा संगृहीत रहते हैं। एक indivisual इतने सारे डाटा को maitain नहीं कर सकता इसलिए जब इसका इस्तमाल करना पड़ता है लोग पैसे देकर डाटा ख़रीदलेते हैं।


6.NoSQL Database

ये distributed databade के बड़े सेट के लिए उपयोग किए जाते हैं। कुछ बड़े डेटा प्रदर्शन मुद्दे हैं जो प्रभावी रूप से रिलेशनल डेटाबेस द्वारा नियंत्रित किए जाते हैं, इस तरह के मुद्दों को आसानी से NoSQL डेटाबेस द्वारा प्रबंधित किया जाता है। बड़े आकार के असंरचित डेटा का विश्लेषण करने में बहुत कुशल हैं जो क्लाउड के कई आभासी सर्वरों में संग्रहीत किया जा सकता है।


7.Operational Database

एक उद्यम के संचालन से संबंधित जानकारी इस डेटाबेस के अंदर संग्रहीत की जाती है। विपणन, कर्मचारी संबंध, ग्राहक सेवा आदि जैसे कार्यात्मक लाइनों को इस तरह के डेटाबेस की आवश्यकता होती है।


8.Relational Databases

इन डेटाबेसों को तालिकाओं के एक सेट द्वारा वर्गीकृत किया जाता है, जहां डेटा एक पूर्व-निर्धारित श्रेणी में फिट हो जाता है। तालिका में पंक्तियाँ और स्तंभ होते हैं जहाँ स्तंभ में किसी विशिष्ट श्रेणी के लिए डेटा के लिए एक प्रविष्टि होती है और पंक्तियों में उस डेटा के लिए श्रेणी के अनुसार परिभाषित उदाहरण होते हैं। संरचित query language (SQL) एक संबंधित डेटाबेस के लिए मानक उपयोगकर्ता और अनुप्रयोग प्रोग्राम इंटरफ़ेस है।


9.Cloud Databases

क्लाउड डेटाबेस एक डेटाबेस है जिसे ऐसे वर्चुअलाइज्ड वातावरण के लिए अनुकूलित या निर्मित किया गया है। इस तरह के डेटाबेस का bandwidth बोहत ज्यादा होता है और इस वजह से speed भी बढ़ जाता है।


10.Object-Oriented Databases

एक Object-Oriented Database action के बदले record के रूप में object स्टोर करता है। उदहारण के रूप में अगर हम साधरण डेटाबेस में एक image स्टोर करते हैं तो वहां image के बदले कुछ value store होते हैं लेकिन इस डेटाबेस में सीधा इमेज ही स्टोर होता है।


11.Graph Databases

इस तरह के डेटाबेस में data graph के रूप में स्टोर होते हैं। ग्राफ डेटाबेस मूल रूप से इंटरकनेक्ट का विश्लेषण करने के लिए उपयोग किया जाता है। उदाहरण के लिए, कंपनियां सोशल मीडिया के ग्राहकों के बारे में data mining करने के लिए एक ग्राफ़ डेटाबेस का उपयोग कर सकती हैं।


Database management system software के उदहारण


1. MySQL

MySQL एक object-oriented relational database management software है जिसको 1995 में MySQLAB द्वारा बनाया गया था। यह सबसे ज्यादा इस्तमाल होने वाला सॉफ्टवेयर है क्योँ की इसको मुख्यतः personal use के लिए बनाया गया था। अब इस सॉफ्टवेयर को colud database में भी इस्तमाल किया जाता है।अब या ORACLE कंपनी का हिस्सा है।


2.DBase

dBase (dBASE) माइक्रो कंप्यूटर के लिए पहले डेटाबेस प्रबंधन प्रणालियों में से एक था और अपने दिन में सबसे सफल रहा। DBase सिस्टम में कोर डेटाबेस इंजन, एक क्वेरी सिस्टम, एक फॉर्म इंजन और एक प्रोग्रामिंग भाषा शामिल होती है जो इन सभी घटकों को एक साथ जोड़ती है। dBase की अंतर्निहित फ़ाइल प्रारूप, .dbf फ़ाइल, संरचित डेटा को संग्रहीत करने के लिए एक सरल प्रारूप की आवश्यकता वाले अनुप्रयोगों में व्यापक रूप से उपयोग की जाती है।


3. db2

प्रारंभ में, आईबीएम ने अपने विशिष्ट मंच के लिए DB2 उत्पाद विकसित किया था। 1990 के बाद से, इसने एक यूनिवर्सल डेटाबेस (UDB) DB2 सर्वर विकसित करने का निर्णय लिया, जो किसी भी आधिकारिक ऑपरेटिंग सिस्टम जैसे लिनक्स, यूनिक्स और विंडोज पर चल सकता है।


DB2 IBM का एक डेटाबेस उत्पाद है। यह एक रिलेशनल डेटाबेस मैनेजमेंट सिस्टम (RDBMS) है। DB2 को डेटा को कुशलतापूर्वक संग्रहीत, विश्लेषण और पुनर्प्राप्त करने के लिए डिज़ाइन किया गया है। DB2 उत्पाद एक्सएमएल के साथ ऑब्जेक्ट-ओरिएंटेड सुविधाओं और गैर-संबंधपरक संरचनाओं के समर्थन के साथ बढ़ाया गया है।


4. FoxPro


FoxPro एक text-based procedurally oriented programming language है। यह एक ऑब्जेक्ट-ओरिएंटेड प्रोग्रामिंग भाषा भी है, जिसे मूल रूप से Fox सॉफ्टवेयर और बाद में माइक्रोसॉफ्ट द्वारा एमएस-डॉस, विंडोज, मैकिंटोश और यूनिक्स के लिए प्रकाशित किया गया है। । फॉक्सप्रो की अंतिम प्रकाशित रिलीज़ 2.6 थी। विज़ुअल फॉक्सप्रो लेबल के तहत विकास जारी रहा, जिसे 2007 में बंद कर दिया गया।FoxPro को फॉक्सबेस (फॉक्स सॉफ्टवेयर, पेरिस्बर्ग, ओहियो) से लिया गया था, जो बदले में डीबेस III (एश्टन-टेट) और डीबेस II से निकला था।

5. ORACLE


यह आमतौर पर ऑनलाइन लेनदेन प्रसंस्करण (OLTP), डेटा वेयरहाउसिंग (DW), और मिश्रित (ILTP और DW) डेटाबेस वर्कलोड को चलाने के लिए उपयोग किया जाने वाला एक डेटाबेस है। नवीनतम पीढ़ी, ओरेकल डेटाबेस 19 सी, ऑन-प्रिमेट, ऑन-क्लाउड या हाइब्रिड-क्लाउड वातावरण में उपलब्ध है।


डेटाबेस model के प्रकार


एक डेटाबेस मॉडल एक डेटाबेस के logical design और संरचना को परिभाषित करता है और परिभाषित करता है कि डेटाबेस प्रबंधन प्रणाली में डेटा को कैसे store, access और update किया जाएगा।चलिए देखते है की database model के प्राकर क्या है।


  • Hierarchical Model

  • Network Model

  • Entity-relationship Model

  • Relational Model

1. Hierarchical Model

यह डेटाबेस मॉडल डेटा को पेड़ की तरह संरचना में present करता है, जिसमें एक root होता है, जिसमें अन्य सभी डेटा लिंक होते हैं। पदानुक्रम नोड की शुरुआत रूट डेटा से होती है, और एक पेड़ की तरह फैलता है, जिससे chid data के nodes को root node में जोड़ा जाता है।


इस Hierarchical Model में, एक बच्चे के नोड का केवल एक ही मूल नोड होगा।इस Hierarchical Model में, डेटा दो अलग-अलग प्रकार के डेटा के बीच एक-से-कई संबंधों के साथ पेड़ जैसी संरचना में व्यवस्थित होता है, उदाहरण के लिए, एक विभाग में कई पाठ्यक्रम, कई प्रोफेसर और कई छात्र हो सकते हैं।

2. Network Model


यह Hierarchical model का एक विस्तार है। इस मॉडल में, डेटा को एक ग्राफ की तरह अधिक व्यवस्थित किया जाता है, और एक से अधिक मूल नोड के लिए अनुमति दी जाती है। इस डेटाबेस मॉडल में डेटा अधिक संबंधित होता है क्योंकि इस डेटाबेस मॉडल में अधिक रिश्ते स्थापित होते हैं। साथ ही, चूंकि डेटा अधिक संबंधित है, इसलिए डेटा एक्सेस करना भी आसान और तेज है। इस डेटाबेस मॉडल का उपयोग कई-से-कई डेटा संबंधों को मैप करने के लिए किया गया था।रिलेशनल मॉडल पेश करने से पहले यह सबसे व्यापक रूप से इस्तेमाल किया जाने वाला डेटाबेस मॉडल था।



3. Entity-relationship Model


इस डेटाबेस मॉडल में, एक सामान interest की एक object और attribute में इसकी विशेषताओं को विभाजित करके संबंध बनाए जाते हैं। कई सारे अलग अलग entity एक दूसरे के साथ relationship में जुड़े रहते हैं। इस मॉडल को E-R Model भी कहा जाता है। यह मॉडल एक डेटाबेस डिजाइन करने के लिए अच्छा है, जिसे तब रिलेशनल मॉडल में table में बदल दिया जा सकता है।


एक उदाहरण से समझते हैं, यदि हमें एक स्कूल डेटाबेस डिजाइन करना है, तो student एक entity होगा और उसके attribute होंगे name , age , address आदि। Address भी अपने आप में एक entity हो सकता है जिसके attribute होंगे street name, pincode, city अदि।

4. Relational Model


इस मॉडल में, डेटा को twodimensional tables में व्यवस्थित किया जाता है और एक field को संग्रहीत करके relation बनाए रखा जाता है।इस मॉडल को 1970 में E.F Codd द्वारा पेश किया गया था, और तब से यह सबसे व्यापक रूप से इस्तेमाल किया जाने वाला डेटाबेस मॉडल है, वास्तव में, हम दुनिया भर में उपयोग किए जाने वाले एकमात्र डेटाबेस मॉडल कह सकते हैं।


Relational model में डेटा की मूल संरचना tableहै। किसी विशेष प्रकार से संबंधित सभी जानकारी उस तालिका की पंक्तियों में संग्रहीत होती है।इसलिए, टेबल को संबंधपरक मॉडल में संबंधों के रूप में भी जाना जाता है।आने वाले ट्यूटोरियल्स में, हम सीखेंगे कि टेबल कैसे डिज़ाइन करें, डेटा रिडंडेंसी को कम करने के लिए उन्हें सामान्य करें, और table से डेटा access करने के लिए Structured Query भाषा का उपयोग कैसे करें।

डेटाबेस का operation


हम डेटाबेस के operation को एक उदहारण लेकर समझेंगे। मान लीजिये की हमारे पास एक school का डेटाबेस है जिसमे एक table है जिसका नाम है student .


1. Insert

Insert operation में हम एक नया student का data student table में डालेंगे। इसे technical term में एक row insert करना बोलते हैं।


2. Update

Update operation में हम एक पहले से डालेगये student के डाटा को बदलेंगे अगर उसमे रखा गया Data गलत हो। इसे technical term में एक row update करना बोलते हैं।


3. Delete

Delete operation में हम एक student के data को मिटा देंगे ताकि वो फिर से available न हो। इसे technical term में एक row delete करना बोलते हैं।


4. Access /Read

Read operation में हम student table में रखे गए data को access कर के जरुरी स्थान पर दिखाएंगे। इसे technical term में एक row read करना बोलते हैं।


इस पुरे ऑपरेशन को technical term में CRUD operation कहा जाता है।
C - Create R - Read U - Update D - Delete

डेटाबेस के components


Database के 5 major component होते हैं।


1. Hardware


इसमें I / O डिवाइस, स्टोरेज डिवाइस और कई और अधिक इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों का एक सेट शामिल है। यह कंप्यूटर और real-world प्रणालियों के बीच एक interface भी प्रदान करता है।


2. Software


यह उन set of program है, जिनका उपयोग समग्र डेटाबेस को नियंत्रित और प्रबंधित करने के लिए किया जाता है। इसमें खुद DBMS software भी शामिल है। ऑपरेटिंग सिस्टम, नेटवर्क सॉफ़्टवेयर का उपयोग उपयोगकर्ताओं के बीच data आदान प्रदान करने के लिए किया जाता है, एप्लिकेशन प्रोग्राम DBMS में data access करने के लिए उपयोग किया जाता है।


3. Data


डेटाबेस मैनेजमेंट सिस्टम डेटा collect करता है, store करता है, process करता है और access करता है। डेटाबेस वास्तविक या परिचालन डेटा और metadata दोनों रखता है।


4. Procedure


ये DBMS को डिज़ाइन और चलाने के लिए, इसे संचालित करने वाले और इसे प्रबंधित करने वाले उपयोगकर्ताओं को निर्देशित करने के लिए डेटाबेस का उपयोग करने के नियम और निर्देश हैं।


5. Database Access Language


इसका उपयोग डेटाबेस से डेटा को access करने के लिए किया जाता है। नए डेटा को insert करने के लिए, अपडेट करने या पुनर्प्राप्त करने के लिए डेटाबेस से डेटा की आवश्यकता होती है। आप डेटाबेस एक्सेस भाषा में उपयुक्त कमांड का एक सेट लिख सकते हैं, इन्हें DBMS में जमा कर सकते हैं, जो तब डेटा को प्रोसेस करता है और इसे जेनरेट करता है, परिणाम के एक सेट को उपयोगकर्ता-पठनीय रूप में प्रदर्शित करता है।


Database के फायदे


डेटाबेस data store करनेका सबसे बेहतरीन तरीका है। पहले जब technology develope नहीं हुआ था तब ज्यादातर डाटा file में लिखित रूप में रखे जाते थे।


  • अनगिनत data store करने की ख्यामता।

  • एक ही click में insert,update, और delete करना।

  • एक ही डेटाबेस को एक साथ बोहत साडी जगह पर इस्तमाल किया जा सकता है।

  • एक data को देलेटकरने के बाद उस स्थान दोबारा इस्तमाल किया जा सकता है।

  • डेटाबेस में रखेगए data को कहीं भी access कर सकते हैं।

Conclusion

इस लेख में मैंने आपको डेटाबेस क्या है - what is database in Hindi के बारे में पुरे बिस्तार में बताने की कोसिस कीया है। उम्मीद है आपको यह पोस्ट पसंद आई होगी। इस पोस्ट को जरूर like कीजिये और अगर आपके मन में कोई संदेह हो या मैंने कुछ बताना भूल गया हो तो comment करके जरूर बताइये।


0 views
  • Facebook
  • Twitter
  • YouTube
  • Instagram

©2020 by HindiTechnoCard.